DTC कर्मचारियों बुरी खबर आई सामने, 350 कर्मचारियों के हाथ से छीन जाएगा रोजगार

दिल्ली :- पिछले 10 सालों से दिल्ली इंटीग्रेटेड मल्टी मॉडल ट्रांजिस्टर सिस्टम में 350 कर्मचारी कॉन्ट्रैक्ट आधार पर कार्यरत हैं। यह सभी कर्मचारी दिल्ली में डीटीसी की क्लस्टर बस के संचालन की मॉनिटरिंग करते हैं।

DTC Bus Driver Jobs

लेकिन इन सभी कर्मचारियों के लिए एक बड़ी खबर सामने आई है। बताया जा रहा है कि इनका कॉन्ट्रैक्ट पीरियड खत्म होने वाला है। इसलिए इन सभी कर्मचारियों को नोटिस दिया गया है जिसमें लिखा गया है कि उनकी सेवाएं 19 जून को समाप्त हो जाएगी। इसी बात को लेकर कर्मचारियों में काफी रोष है।

दिल्ली में 350 कर्मचारियों को नौकरी से हटाने का दिया गया नोटिस

कर्मचारियों को नोटिस मिलने से काफी दुख हुआ है। इसीलिए कर्मचारियों ने शुक्रवार को राजघाट डिपो पर इकट्ठा होकर विरोध जताया है। कर्मचारियों का कहना है कि दिल्ली सरकार और डिम्ट्स के अधिकारियों ने उनके साथ वादाखिलाफी की है।

सभी कर्मचारी कोर्ट जाने की तैयारी कर रहे हैं। कर्मचारियों ने बताया कि 2013 में सभी कर्मचारियों की नियुक्ति डिम्ट्स द्वारा की गई थी।‌ पिछले 10 साल से हम 350 कर्मचारी इसी कंपनी में काम कर रहे हैं। लेकिन अब कंपनी ने 19 जून को सेवा से निकालने की सूचना दी है ।

DTC कर्मचारियों के सामने खड़ा हुआ नौकरी का संकट

अचानक जॉब से निकालने पर कर्मचारियों पर रोजगार का संकट मंडरा रहा है। कर्मचारियों का कहना है कि चुनाव आचार संहिता लगने के कारण कंपनी ने जानबूझकर ऐसा किया है, ताकि सरकार द्वारा इसमें दखल अंदाजी ना की जा सके। दिल्ली सरकार ने सभी कर्मचारियों को नियमित किए जाने का वादा किया है। लेकिन अब उन्हें नौकरी से निकाला जा रहा है ।अब सभी कर्मचारियों के परिवार का क्या होगा इस बारे में कोई ध्यान नहीं दे रहा।

DTC के अधिकारियों ने कहा कर्मचारियों की अवधि हो गई पूरी

DTC के अधिकारियों ने बताया कि इन सभी 350 कर्मचारियों को कॉन्ट्रैक्ट आधार पर लगाया गया था। उनके 10 साल की अवधि पूरी हो गई है ।शर्तों के अनुसार कर्मचारियों को नोटिस दिया गया है। कंपनी में अब कलेक्टर मॉनिटरिंग का कोई काम नहीं है तो कर्मचारियों को ना तो काम पर रख सकते हैं और ना ही इन्हें हम वेतन दे सकते हैं। हम कर्मचारियों को बिना वजह नौकरी से नहीं निकाल रहे हैं।

Leave a Comment