Pradhanmantri Gramin digital saksharta mission

Pradhanmantri Gramin digital saksharta mission यह इलेक्ट्रॉनिक्स और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की एक डिजिटल साक्षरता योजना है। जिसका उद्देश्य राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के ग्रामीण क्षेत्रों में 6 करोड लोगों को Digital रूप से साक्षर बनाना है ।

Pradhanmantri Gramin digital saksharta mission
Pradhanmantri Gramin digital saksharta mission

यह लाभ केवल देश के ग्रामीण क्षेत्र के लिए लागू है प्रत्येक पत्र परिवार से केवल एक व्यक्ति को प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए विचार किया जाएगा। गैर स्मार्टफोन उपयोगकरताओं अंत्योदय परिवारों कॉलेज छोड़ने वालों और व्यस्त साक्षरता मिशन के प्रतिभागियों को प्राथमिकता दी जाएगी। कक्षा नवमी से 12वीं तक के डिजिटल रूप से निरीक्षण स्कूली छात्र यदि उनके स्कूल में कंप्यूटर आईसीटी प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध नहीं है। तो एससी ,एसटी ,बीपीएल महिलाओं दिव्यांग व्यक्तियों और अल्पसंख्यकों को प्राथमिकता दी जाएगी।

इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र में नागरिकों को कंप्यूटर या डिजिटल सक्सेस डिवाइस संचालित करने ईमेल भेजना और प्राप्त करने इंटरनेट ब्राउज़र करने सरकारी सेवाओं तक पहुंच जानकारी की खोज करने और डिजिटल भुगतान इत्यादि करने के लिए प्रशिक्षण करके सशक्त बनाना है। और इस प्रकार उन्हें राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में सक्रिय रूप से भाग लेने के लिए सूचना प्रौद्योगिकी और संबंधित अनुप्रयोगों विशेष रूप से डिजिटल भुगतान का उपयोग करने में सक्षम बनाना है। इस योजना का लक्ष्य डिजिटल विभाग के माध्यम एक सेतु रूप से काम करता है। योजना विशेष रूप से अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति गरीब रेखा से नीचे आने वाले सभी व्यक्तियों और अल्पसंख्यकों के लिए शुरू किया गया है।

Pradhanmantri Gramin digital saksharta mission के लाभ

इस योजना का लाभ ग्रामीण क्षेत्र के नागरिकों को कंप्यूटर या डिजिटल एक्सेस डिवाइस चलने ईमेल भेजना और प्राप्त करने इंटरनेट ब्राउजिंग करने सरकारी सेवाओं की जानकारी की खोज करने और डिजिटल भुगतान इत्यादि करने के लिए प्रशिक्षित करके सशक्त बनाना है। और उन्हें राष्ट्र निर्माण की प्रक्रिया में सक्रिय रूप से भाग लेने के लिए सूचना प्रयोग और संबंधित अनुप्रयोग विशेष रूप से डिजिटल भुगतान का उपयोग करने में सक्षम बनाना है। औसतन प्रति ग्राम पंचायत 200 से 300 आवेदकों के लक्ष्य की परिकल्पना की गई है ।ग्राम पंचायत के लिए वास्तविक लक्ष्य जिला मजिस्टिकों की अध्यक्षता वाली गवर्नमेंट सोसायटी द्वारा निर्धारित किया गया जो जिले के आकार जनसंख्या स्थानीय अवश्य कर्ताओं इत्यादि को ध्यान में रखते हुए होगा। प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत आने वाले ग्रामों को Full Digital Education प्रदान करने का प्रयास किया जाएगा।

Gram Panchyatमें प्रशिक्षण केंद्र की स्थापना मोबाइल फोन के माध्यम से सामग्री का विवरण एक पूरक सुविधा के रूप में प्रस्तावित है जिसे बड़ी संख्या में नई आईटी साक्षरों द्वारा एक्सेस किया जा सकता है शारीरिक प्रशिक्षण मोड़ के दौरान सीखी गई सामग्री को ताजा करने के लिए

डिजिटल साक्षरता प्रशिक्षण पाठ्यक्रम

पाठ्यक्रम का समय 20 घंटे

डिजिटल उपकरणों का परिचय डिजिटल उपकरणों का संचालन।

Internet का परिचय इंटरनेट का उपयोग कर संचार इंटरनेट के अनुप्रयोग

 

सीखने के परिणाम

डिजिटल उपकरणों की मूल बातें को समझ जानकारी तक पहुंच बनाने प्रबंध करने और साझा करने के लिए डिजिटल उपकरणों का उपयोग प्रभावी और जिम्मेदार तरीके से ब्राउज़ करने के लिए।

इंटरनेट का उपयोग प्रभावी ढंग से संचार करने के लिए प्रयोग का उपयोग।

डिजिटल वित्तीय उपकरणों का उपयोग करके कैशलेस लेनदेन।

डिजिटल लॉकर का उपयोग

ऑनलाइन नागरिक केंद्रित सेवाओं का उपयोग दैनिक सामाजिक जीवन और काम में डिजिटल प्रयोग की भूमिका की सराहना।

Digital Education प्रशिक्षण के उद्देश्य से विकसित की गई सामग्री अंग्रेजी के अलावा भारत के 22 अनुसूचित भाषाओं में उपलब्ध कराई जाएगी।

22 अनुसूचित भाषाओं में एक मोबाइल ऐप उपलब्ध कराया जाएगा ताकि प्रशिक्षण सामग्री को डाउनलोड किया जा सके और जरूरत पड़ने पर पुन उपयोग किया जा सके

जो लोग पढ़ और लिख नहीं सकते उनके लिए ऑडियो विजुअल स्पर्श इत्यादि आधारित सामग्री विकसित की जाएगी।

जो लोग पद और लिख सकते हैं उनके लिए पथ्य संचारित ऑडियो वीडियो और एप्लीकेशन आधारित सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी।

Pradhanmantri Gramin digital saksharta mission की पात्रता

प्रत्येक परिवार के केवल एक व्यक्ति का विचार किया जाएगा जहां परिवार का कोई भी सदस्य डिजिटल रूप से साक्षर नहीं है।

आवेदक की उम्र 14 वर्ष से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए

गौर Smart Phone उपयोग उपयोग करता अंत्योदय परिवार कॉलेज छोड़ने वाले और व्यस्त साक्षरता मिशन के प्रतिभागी कक्षा नवमी से 12th तक के डिजिटल रूप से निरीक्षण स्कूली छात्र छात्र बसे उनके स्कूल में कंप्यूटर आईसीटी प्रशिक्षण की सुविधा उपलब्ध न हो।

 

Pradhanmantri Gramin digital saksharta mission के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

आधार कार्ड

पहचान पत्र

जन्म प्रमाण पत्र

Pradhanmantri Gramin digital saksharta mission में आवेदन की प्रक्रिया

लाभार्थियों की पहचान शे गवर्नमेंट सर्विसेज इंडिया लिमिटेड जो कंपनी अधिनियम 1956 के अंतर्गत गठित एक विशेष प्रयोजन वाहन है, द्वारा डीआईजीएस ग्राम पंचायत और ब्लॉक विकास पदाधिकारी के सक्रिय सहयोग से किया जाएगा ऐसे लाभार्थियों की सूची योजना पोर्टल पर उपलब्ध कराई जाएगी।

आवेदक व्यक्तियों को अपने आधार कार्ड नंबर का उपयोग करके निकटतम पीएमजी दिशा प्रशिक्षण केंद्र में नामांकित किया जाना है लाभार्थी को विशिष्ट उपयोगकर्ता ऑन नाम और पासवर्ड प्रदान किया जाए

Leave a Comment